Normal view MARC view ISBD view

Antariksh pari: Sunita Williams

By: Sharma, Aradhika.
Contributor(s): Seshadri, S.
Publisher: New Delhi Prabhat Prakashan 2010Description: 93 p.ISBN: 9788173156519.Subject(s): Biography, Sunita Williams | Hindi litrature - BiographyDDC classification: H 629.130092 Summary: भारतीय मूल की अंतरिक्ष वैज्ञानिक सुनीता विलियम्स का नाम आज कौन नहीं जानता ! यह नाम है एक ऐसा असाधारण महिला का, जिसके नाम अनेक रिकार्ड दर्ज हो चुके हैं। उन्होंने अंतरिक्ष में 194 दिन, 18 घंटे रहकर विश्वरिकार्ड बनाया। यह पुस्तक उसी अप्रतिम महिला की असाधारण इच्छाशक्ति, दृढ़ता, उत्साह तथा आत्मविश्वास की कहानी है। उनके इन गुणों ने उन्हें एक पशु चिकित्सक बनने की महत्वाकांक्षा रखने वीली छोटी-सी बालिका के एक अंतरिक्ष-विज्ञानी, एक आदर्श प्रतिमान बना दिया। अंतरिक्ष में अपने छह माह के प्रवास के दौरान वे दुनियाभर के लाखों लोगों के आकर्षण का केंद्र बनी रहीं।
List(s) this item appears in: Hindi Book for Display
Tags from this library: No tags from this library for this title. Log in to add tags.
    average rating: 0.0 (0 votes)
Item type Current location Item location Collection Call number Status Date due Barcode
Hindi Books Vikram Sarabhai Library
Slot 2542 (3 Floor, East Wing) Non-fiction H 629.130092 S4A6 (Browse shelf) Available 177943
Browsing Vikram Sarabhai Library Shelves , Collection code: Non-fiction Close shelf browser
H 640 S7G7 Grah parisazza H 628.5 D8B4 Bigarata paryavaran: ghatata jeevan H 629.130092 P2K2 Kalpana Chawla: sitaron se aage H 629.130092 S4A6 Antariksh pari: Sunita Williams H 629.40954 A2V2 Vaigyanik Bharat H 629.45092 S4N3 Neil Armstrong: chandrma par pehala manav H 630.954 T7B4 Bhartiya krishi ka Itihas

Text in Hindi

Includes references

भारतीय मूल की अंतरिक्ष वैज्ञानिक सुनीता विलियम्स का नाम आज कौन नहीं जानता ! यह नाम है एक ऐसा असाधारण महिला का, जिसके नाम अनेक रिकार्ड दर्ज हो चुके हैं। उन्होंने अंतरिक्ष में 194 दिन, 18 घंटे रहकर विश्वरिकार्ड बनाया। यह पुस्तक उसी अप्रतिम महिला की असाधारण इच्छाशक्ति, दृढ़ता, उत्साह तथा आत्मविश्वास की कहानी है। उनके इन गुणों ने उन्हें एक पशु चिकित्सक बनने की महत्वाकांक्षा रखने वीली छोटी-सी बालिका के एक अंतरिक्ष-विज्ञानी, एक आदर्श प्रतिमान बना दिया। अंतरिक्ष में अपने छह माह के प्रवास के दौरान वे दुनियाभर के लाखों लोगों के आकर्षण का केंद्र बनी रहीं।

There are no comments for this item.

Log in to your account to post a comment.

Powered by Koha